भागलपुर में नये फोर लेन पुल का होगा निर्माण, जानें… अपने जिलें को और क्या मिला

भागलपुर स्थित विक्रमशिला सेतु के समानांतर नए फोरलेन पुल तथा नवगछिया से लेकर भागलपुर तक एनएच का निर्माण एनएचएआइ द्वारा कराया जाएगा। पुल की लंबाई 4.37 किमी होगी तथा पहुंच पथ 10.6 किमी लंबा होगा। इस पर 1900 करोड़ रुपए खर्च होंगे। दिल्ली में बिहार के लिए घोषित पीएम पैकेज के अनुश्रवण को ले गठित कमेटी की बैठक में इस आशय का फैसला लिया गया। इसके अतिरिक्त एनएच की अन्य सात परियोजनाओं को भी मंजूरी मिली। कुल मिलाकर 6,804 करोड़ रुपए की योजनाओं को स्वीकृति दी गई है। पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने सोमवार को इस आशय की जानकारी दी। विक्रमशिला सेतु को छोड़ शेष योजनाओं का क्रियान्वयन पथ निर्माण विभाग के एनएच डिवीजन द्वारा कराया जाएगा।

भागलपुर से ढाका मोड़ फोर लेन के लिए 1121 करोड़ रुपये की स्वीकृति

सैद्धांतिक रूप से एनएच में अपग्रेड किए जाने को ले जिन सड़कों पर सहमति बनी थी उस संबंध में पथ निर्माण विभाग ने प्रस्ताव दिया था। जिन सात सड़कों को मंजूरी दी गई है उनमें बक्सर-चौसा होते हुए मोहनिया पथ को एनएच घोषित कर दस मीटर चौड़ी सड़क के निर्माण पर 960 करोड़ रुपए की योजना को स्वीकृति दी गई। यह सड़क 64 किमी लंबी है। इसके अतिरिक्त समस्तीपुर-दरभंगा फोर लेन (50 किमी) के निर्माण पर 1612 करोड़, भागलपुर से ढाका मोड़ फोर लेन (62 किमी) के लिए 1121 करोड़, हाजीपुर से बछवाड़ा (75 किमी) के लिए 552 करोड़, सर्वन-चकाई (18 किमी) के लिए 80 करोड़ की योजना को स्वीकृति दी गई है।

एमओआरटीएच के सचिव की अध्यक्षता में हुई बैठक में निर्णय

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रलय के सचिव वाईएस मलिक की अध्यक्षता में हुई बैठक में बिहार से संबंधित पुल और सड़क परियोजनाओं के संबंध में लिया गया निर्णय। बैठक में मुख्य सचिव दीपक कुमार, एनएचएआई के अध्यक्ष संजीव रंजन व पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव अमृत लाल मीणा भी मौजूद थे।

समानांतर सेतु के निर्माण से खुलेगा विकास का द्वार

भागलपुर में समानांतर सेतु के निर्माण से विकास का द्वारा खुलेगा। एकल सेतु रहने के कारण आए दिन जाम की समस्या से लोगों को जूझना पड़ता है।

पूर्व सांसद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि वाराणसी के बाद भागलपुर को पीएम मोदी ने नए साल की बड़ी सौगात दी है। मोदी ने भागलपुर को 3021 करोड़ का पैकेज दिया है। इसके लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद और आभार। पीएम ने जनता की मुराद पूरी की है।

भाजपा जिलाध्‍यक्ष रोहित पांडेय ने कहा कि अटल जी के बाद मोदी ने ही विकास की गति तेज की है। मोदी ने भागलपुर को करोड़ों का पैकेज देकर विकास के द्वार खोल दिए हैं। अटल जी ने जो काम शुरु किया था, उसे मोदी अंजाम दे रहे हैं।

चेम्बर ऑफ कामर्स के अध्‍यक्ष शैलेंद्र सर्राफ ने कहा कि भागलपुर को सेतु और फोर लेन सड़क का प्रोजेक्ट मिला है। समानांतर सेतु के निर्माण से लोगों को राहत मिलेगी। जाम से निजात मिलेगा। व्यापारी समाज के व्यापार की राह सुलभ होगी।

जिला परिषद अध्यक्ष अनंत कुमार ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पूर्व पीएम का यह पैकेज बहुत बड़ा है। पीएम ने भागलपुर के विकास की चिंता की है। इसके लिए पीएम मोदी को हृदय से धन्यवाद। समानांतर सेतु से विकास के द्वार खुलेंगे।

जदयू जिलाध्‍यक्ष विभूति गोस्‍वामी ने कहा कि एनडीए की सरकार विकास कर रही है। यह सरकार विकास में विश्वास करती है। प्रधानमंत्री मोदी ने भागलपुर के विकास के लिए दो योजनाओं को स्वीकृति देकर लोगों का दिल जीत लिया है।

पूर्व विधायक अमन पासवान ने कहा कि पीएम मोदी ने ढाकामोड़ की सड़क को फोर लेन बनाने के लिए विशेष पैकेज देकर भागलपुर के विकास को गति दी है। इसके लिए पीएम के प्रति आभार। पीरपैंती की जनता की ओर से पीएम को बधाई।

भोलानाथ पुल में अड़चन दूर कर मुकाम देंगे

जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने कहा कि नए वर्ष में सभी को कुछ न कुछ लक्ष्य निर्धारित करना चाहिए। आम नागरिक, गृहिणी और छात्रों को कुछ नया करने का लक्ष्य तय करना चाहिए। प्रशासक के रूप में शहर के विकास के लिए भोलानाथ पुल के निर्माण में आ रही अड़चन को दूर कर मुकाम देंगे। वहीं जिले के लिए सात निश्चय योजना के तहत सभी घरों में नल का जल, गली-नाली और शौचालय की व्यवस्था करने का लक्ष्य है। सात निश्चय की योजना को धरातल पर उतारेंगे।

स्मार्ट सिटी की योजना को पूर्ण कराने की दिशा में पहल करेंगे। सरकारी स्कूल में डिजीटल शिक्षा को बढ़ावा देंगे। इससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा। नए वर्ष में हर किसी को कुछ न कुछ हासिल करने के लिए लक्ष्य बनाना चाहिए। छात्रों को यह तय करना चाहिए कि उन्हें क्या करना है। जो भी लक्ष्य तय करें उसे घर, लॉज या छात्रावास में कहीं लिख लें। ताकि हर माह उसे देख सकें। लिखकर रखने से भूलने की नौबत नहीं आएगी और इसका पीछा किया जा सकेगा। लक्ष्य हासिल करने के लिए यह भी देखें कि हम इसमें आगे कहां पहुंचे हैं।
इनपुट: JMB

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.