UP-53 DJ0001 गोरखपुर RTO में शुरू हुआ ऑनलाइन नंबर बुकिंग, इस प्रकार जल्दी करे बुकिंग

गोरखपुर में गाडि़यों के वीआइपी नंबर की आनलानइन नीलामी शुरू हो गई है। इसे कोई भी खरीद सकता है और मन पसंद नंबर हासिल कर सकता है। वाहन स्वामी आनलाइन आवेदन कर नए निर्धारित मूल्य पर मनपसंद नंबर हासिल कर सकते हैं। परिवहन विभाग ने वाहन-4 साफ्टवेयर पर सभी वीआइपी नंबर (फैंसी) लोड कर दिया है। दाम बढ़ाने के साथ ही परिवहन विभाग मुख्यालय ने वीआइपी नंबरों को लॉक कर दिया था।
 
एआरटीओ (प्रशासन) श्याम लाल के अनुसार गोरखपुर में वाहनों की नई सीरीज यूपी 53 डीजे के वीआइपी नंबरों की बिक्री 23 सितंबर से नए रेट के आधार पर शुरू हो गई है। 25 सितंबर से आनलाइन नीलामी की प्रक्रिया भी शुरू होगी। अधिकतम बोली लगाने वाले को नंबर आवंटित किया जाएगा। जिन नंबरों की नीलामी नहीं होगी, उनकी बिक्री सामान्य आनलाइन तरीके से नए रेट पर ही होगी।

नई व्यवस्था के तहत 339 वीआइपी नंबरों का आधार मूल्य तय है। जिसमें अति आकर्षक श्रेणी में दस नंबर, अति महत्वपूर्ण में 46 नंबर, आकर्षक में 96 नंबर और महत्वपूर्ण पंजीयन नंबर श्रेणी में 187 नंबर शामिल हैं। बढ़े हुए दाम पर 1111, 2222, 3333, 4444, 5555, 6666, 7777, 8888, 9999 और 0786 नंबर के लिए दो पहिया वाहनों को बीस हजार व चार पहिया को एक लाख रुपये देने होंगे। शेष फैंसी नंबरों के लिए भी रेट निर्धारित है। मोटरसाइकिल के लिए सबसे कम तीन हजार और चार पहिया के लिए 15 हजार तय है।
 
वीआइपी नंबर अधिकतम 15 हजार रुपये में मिल जाते थे। हालांकि, नंबरों की मारामारी को लेकर विभाग ने नीलामी की प्रक्रिया शुरू की है। लेकिन इस प्रक्रिया में भी लोग रुचि नहीं ले रहे। दो बार से गोरखपुर में एक भी नंबर नीलाम नहीं हो रहे हैं। जानकारों के अनुसार आधार मूल्य बढऩे के बाद नीलामी प्रकिया का कोई औचित्य नहीं रह गया है।

Leave a Comment