UAE: 5 प्रवासियों को जेल, नाबालिग लड़कियों से कराते थे वे’श्या”वृ’त्ति, होटल में मिली 19 महिलाएं

UAE: दुबई कोर्ट ऑफ़ फ़र्स्ट इंस्टेंस ने नाबालिग लड़कियों के समूह की त’स्क’री करने और उन्हें वे’श्या’वृ’त्ति के लिए मजबूर करने के अ’प’रा’ध में शामिल पाँच बांग्लादेशी पुरुषों के एक गिरोह को जेल की सजा सुनाई है।

20 से 39 वर्ष की आयु के प्रतिवादियों ने कथित तौर पर अपने देश से चार किशोरियों को बुलाया। फिर उन्हें अल मुराक़बत इलाके के एक नाइट क्लब में नर्तकियों और वे’श्या’ओं के रूप में काम करने के म’ज’बर किया।

दुबई पुलिस को मार्च 2019 में पहली प्रतिवादी के स्वामित्व वाले एक होटल में नाइट क्लब में एक नर्तकी के रूप में काम करने वाले किशोरी के बारे में सूचना मिली। पुलिस ने नाइट क्लब में छा’पा मारा और 19 महिलाओं और पांच प्रतिवादियों को पाया।

एक अमीराती पुलिसकर्मी ने आधिकारिक रिकॉर्ड में यह कहा, “सभी महिलाएं नर्तकियों और वे’श्या’ओं के रूप में काम कर रही थीं। उनमें से चार 18 वर्ष से कम उम्र के थे। हमने उस जगह पर छापा मारा और पीड़ितों को बचाया, जिन्हें दुबई में एक महिला के बच्चों के बने आश्रय गृह में भेजा गया था। प्रतिवादियों ने फर्जी उम्र वाले पासपोर्ट का उपयोग करके पीड़ितों को लाया था।

17 वर्षीय बांग्लादेशी पीड़िता ने गवाही दी कि वह दुबई में एक नर्तकी के रूप में आने और काम करने के लिए सहमत थी, क्योंकि वह अपने देश में 10 लोगों के परिवार का पालन पोषण कर रही थी।

उसने कहा कि एक आदमी ने उसके पासपोर्ट की व्यवस्था की और देश में आने के लिए उसे पैसे दिए। जब वह पहुंची, तो उसे अन्य लड़कियों के साथ एक घर में ले जाया गया।

उसने ये कहा, “मैं अपने परिवार की खराब वित्तीय स्थिति के कारण एक नर्तक के रूप में काम करने के लिए सहमत हो गई थी। देश में पहुंचने के चार दिनों के बाद, वे हमें नाइट क्लब में ले गए और हमें बताया कि हम नर्तकियों के रूप में काम करेंगे। उन्होंने मुझे प्रति माह तीन ग्राहकों के साथ अ’वै’ध संबंध रखने को कहा। पहली प्रतिवादी नाइट क्लब का प्रबंधक है और वह व्यवसाय यही चला रहा था।

महिलाओं में 16-17 वर्ष की आयु के चार पीड़ित शामिल हैं, जो पिछले साल अलग-अलग समय पर आए थे। उन्होंने कहा कि वे यहां आए ताकि वे अपने परिवारों की मदद कर सकें।

पांचों प्रतिवादियों पर मानव त’स्करी का आरोप लगाया गया था। उनके जेल जाने के बाद उन्हें निर्वासित किया जाएगा।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.