UAE में नया आंकड़ा जारी, सबसे आगे भारतीय, दूसरे कामगारों को छोड़ा पीछा

संयुक्त अरब अमीरात में सेंट्रल बैंक द्वारा एक खास आंकड़ा जारी किया गया है, जिसमें यह सामने आया है कि 2019 की पहली छमाही मेंकामगारों ने Dh80.96 बिलियन राशि की कमाई की।

कुल Dh33.046 बिलियन को मनी एक्सचेंज कंपनियों और बाकी बैंकों के माध्यम से देश में संचालित किया गया।

भारत के कामगारों में UAE में प्रवासियों द्वारा कमाई के लिए पहला स्थान धारण किया है। भारतीय को इस मामले में शीर्षता का ताज मिला है जिसमें Q2 के दौरान कुल प्रेषण का 37.2 प्रतिशत शामिल था।

सामने आई जानकरी के अनुसार भारतीयों अनुसरण पाकिस्तानी लाभार्थियों द्वारा किया जाता है।

कामगारों के अर्जित Dh33.046 बिलियन की राशि में भारत का 10.5 प्रतिशत, फिलिपिनो का 7.2 प्रतिशत, मिस्र के लोगों का 6.3 प्रतिशत, ब्रिटेन के नागरिक 3.8 प्रतिशत, बांग्लादेशी 3.7 प्रतिशत, अमेरिकी नागरिक 3.3 प्रतिशत, जार्डन 2.6 प्रतिशत, स्विस, 2.2 प्रतिशत और अंत में चीनी, 1.5 प्रतिशत अर्जन शामिल हैं।

Expats’ remittances from the UAE amounted to Dh80.96 billion during H1-2019, according to figures released by the Central Bank of the United Arab Emirates.

A total of Dh33.046 billion thereof was transferred through money exchange companies and the rest from the banks operating in the country.

India took home the crown as the top-receiving country for earnings made by migrants, comprising 37.2 per cent of total remittances during Q2.

Indians are followed by Pakistani beneficiaries, comprising 10.5 per cent, then Filipinos, 7.2 per cent, in the third place, with Egyptians making up 6.3 per cent, UK nationals, 3.8 per cent, Bangladeshis, 3.7 per cent, US nationals, 3.3 per cent, Jordanians 2.6 per cent, the Swiss, 2.2 per cent and finally Chinese, 1.5 per cent.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.