1-अक्टूबर से पूरे सउदी अरब में लागू होगा क़ानून, कामगारों के पैसे सीधा सरकार देगी, कम्पनियों और कामगारों को शुल्क से आज़ादी

सऊदी अरब में रह रहे कामगारों के लिए एक बड़ी  खुशखबरी है. सऊदी अरब के राजतंत्र ने कामगारों के लिए एक विशेष अनाउंसमेंट जारी किया है सुबह-सुबह की इस रिपोर्ट में आप भी जाने  क्या कुछ खास हुआ है आप कामगारों के लिए.

सऊदी अरब सल्तनत में सारे कामगारों को हर तरीके के शुल्क से मुक्ति दी है उन्हें किसी प्रकार का कोई शुल्क सऊदी अरब सल्तनत में नहीं देना होगा यह नियम सऊदी के इंडस्ट्रियल एरिया में काम करने वाले कामगारों के ऊपर लागू होगा.  यह छूट अगले 5 वर्षों तक जारी रहेगी. सऊदी सल्तनत नया फैसला अपने इंडस्ट्रियल सेक्टर में विकास करने हेतु लिया है उनका मानना है कि इस क्षेत्र को बढ़ावा देने से सऊदी के विकास पर सीधा प्रभाव पड़ेगा.

 

 एलान के अनुसार सऊदी सरकार अब  कामगारों के लाइसेंस के शुल्क और दूसरी सरकारी शुल्क की राशि खुद अपने ऊपर जिम्मेदारी पूर्वक लेगी और इन सब पैसों का भार सऊदी सरकार अपने खाते से चुकाएंगे यह व्यवस्था इंडस्ट्रियल एरिया में काम करने वाले मजदूरों को 1 अक्टूबर 2019 से 5 वर्षों तक के लिए लागू किया जा रहा है.

 इससे पहले सरकार ने नौकरी देने वाली एजेंसियों के ऊपर या हुकुम जारी किया था कि अगर सऊदी कामगार होता है तो उसके पैसे सरकार खुद देगी लेकिन अब इस फैसले से यह शुल्कों  का भार खूब सऊदी सल्तनत अपने ऊपर लेगी.

 

 इससे पहले कंपनियों को यह शुल्क देना होता था और कंपनियों ने यह जानकारी दी थी कि इससे उनके ऑपरेटिंग कॉस्ट में बढ़ोतरी हो रही है जिसके वजह से विकास  दर धीमा है और जिसका सीधा प्रभाव सऊदी के विकास पर पड़ेगा.

 

 

पिछले फरवरी महीने में किंग सलमान ने  कुछ कंपनियों को सरकारी खाते से भी शुल्क ओके रीइंबर्समेंट किए गए थे,  वह वह कंपनी थे जो बड़े हुए शुल्कों को खुद स्वेच्छा से सरकार को दिए थे.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.