दुबई के फ़्लाइट से JET-AIRWAYS के मालिक को उतारा गया था, हरी झंडी के बाद प्लेन से नीचे उतारा गया…

  • गोयल एमीरेट्स एयरलाइंस की फ्लाइट में सवार थे, प्रवर्तन अफसरों ने रोका
  • जेट एयरवेज कर्मचारी संघ ने पिछले महीने गोयल और सीनियर अधिकारियों के पासपोर्ट जब्त करने की मांग की थी

मुंबई. जेट एयरवेज के संस्थापक नरेश गोयल को शनिवार को दुबई जाने से रोक लिया गया। वो पत्नी के साथ मुंबई एयरपोर्ट से फ्लाइट में सवार हो चुके थे। यह एमीरेट्स एयरलाइंस की फ्लाइट थी। टेक ऑफ के लिए हरी झंडी मिल चुकी थी। तभी प्रवर्तन अधिकारियों ने कहा कि फ्लाइट में इमीग्रेशन क्लीयरेंस से संबंधित कुछ दिक्कत है। इसलिए उसे रोका जाए। इसके बाद नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनिता गोयल को फ्लाइट से उतार लिया गया।

नरेश गोयल (फाइल)

इमरजेंसी फंडिंग नहीं मिलने की वजह से 17 अप्रैल से जेट एयरवेज का संचालन बंद है। जेट के कर्जदाता 8,400 करोड़ रुपए के कर्ज की रिकवरी के लिए एयरलाइन की हिस्सेदारी बेच रहे हैं। एसबीआई की मर्चेंट बैंकिंग शाखा एसबीआई कैप्स बोली की प्रकिया का संचालन कर रही है।

 

 

जेट कर्मचारी संघ ने की थी गोयल के पासपोर्ट को जब्त करने की मांग

पिछले महीने जेट एयरवेज के अफसरों और कर्मचारियों के संघ के अध्यक्ष किरण पवास्कर ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखकर गोयल और अन्य सीनियर अधिकारियों के पासपोर्ट जब्त करने के लिए कहा था। नरेश गोयल और उनकी पत्नी ने मार्च में जेट एयरवेज के बोर्ड से इस्तीफा दे दिया है। गोयल एयरलाइन के चेयरमेन पद से भी इस्तीफा दे चुके हैं।

ज्यादातर बोर्ड मेंबर इस्तीफा दे चुके

जेट का संचालन बंद होने से 23,000 कर्मचारियों के सामने रोजगार का संकट खड़ा हो गया है। पायलट्स और इंजीनियर्स को 3 महीने की सैलरी भी नहीं मिली है। बीते एक महीने में एयरलाइन के ज्यादातर बोर्ड मेंबर भी इस्तीफा दे चुके हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Bitnami