कान में HeadPhone, रेलवे ट्रैक पर कटा अजित तिवारी

मृतक छात्र कुचायकोट थाना क्षेत्र के भठवा गांव निवासी डॉ अजीत तिवारी का 13 वर्षीय पुत्र सूर्य प्रताप तिवारी बताया गया. वह सातवीं कक्षा का छात्र था और कुचायकोट के एक कोचिंग संस्थान में पढ़ाई करता था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार छात्र को उसके पिता बाइक से रेलवे ढाला तक छोड़कर आये थे. सूर्यप्रताप कोचिंग जाने के लिए रेलवे ट्रैक से होकर जा रहा था. इस दौरान वह मोबाइल का ईयरफोन कानों में लगाये हुए था.

 

 

 

बिहार में गोपालगंज के कुचायकोट में पूर्वोत्तर रेलवे के थावे-कप्तानगंज रेलखंड पर सिपाया रेलवे स्टेशन के पास सोमवार की सुबह दर्दनाक हादसा हुआ. यहां कोचिंग के लिए निकले छात्र की ट्रेन के चपेट में आ जाने से मौत हो गयी. मौके पर पहुंची जीआरपी ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इधर, छात्र की मौत की सूचना गांव में पहुंचते ही पूरे गांव में मातम पसर गया.

 

 

मृतक छात्र कुचायकोट थाना क्षेत्र के भठवा गांव निवासी डॉ अजीत तिवारी का 13 वर्षीय पुत्र सूर्य प्रताप तिवारी बताया गया. वह सातवीं कक्षा का छात्र था और कुचायकोट के एक कोचिंग संस्थान में पढ़ाई करता था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार छात्र को उसके पिता बाइक से रेलवे ढाला तक छोड़कर आये थे. सूर्यप्रताप कोचिंग जाने के लिए रेलवे ट्रैक से होकर जा रहा था. इस दौरान वह मोबाइल का ईयरफोन कानों में लगाये हुए था. इस दौरान गोरखपुर की तरफ से आ रहे गोरखपुर-पाटलिपुत्र पैसेंजर ट्रेन आ गयी. ट्रेन की चपेट में आने से कई टुकड़ों में छात्र का शव बिखर गया.

 

 

बताया जाता है कि ट्रेन को आते देख आसपास के लोगों ने भी शोर मचा कर छात्र को आगाह करना चाहा, पर कान में ईयरफोन लगे होने से उसे सुनाई नहीं दिया और छात्र ट्रेन की चपेट में आ गया. हादसे की सूचना मिलने पर छात्र के परिजन मौके पर पहुंचे. जीआरपी की पुलिस भी मौके पर पहुंची और छात्र के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. इधर छात्र की मौत की खबर गांव में पहुंचते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया. छात्र की मां-बाप समेत पूरा परिवार गमगीन हो गया.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.