और अब कुवैत ने Emergency से पहले कामगारों को देश से DEPORT करने का फ़ैसला लिया

खाड़ी देश के कुवैत ने एक नया आधिकारिक पत्र जारी किया है जिसमें निर्दोष लोगों को खाड़ी के अंतर्गत चल रहे टेंशन के दौरान सुरक्षित रखने के लहजे से एक नया आदेश दिया है.

 कुवैत के आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि कुवैत के जेलों में बंद या किसी भी प्रकार से पुलिस कस्टडी में लिए हुए वह लोग जिनकी सजा पूरी हो गई है उन्हें उनके व्यक्तिगत सामान लौटा कर तुरंत निर्वासन सेंटर पहुंचाया जाए ताकि वह अपने देश वापस जा सके और खाड़ी देश के अंतर्गत चल रहे  टेंशन के बीच वह परेशान ना हो.
 
 कुवैत आंतरिक मंत्रालय ने सारे पुलिस स्टेशन कैदखाना और पुलिस जनरल को यह संदेश देते हुए कहा ऐसे लोग जो अभी कुवैत में हैं उनकी पूरी लिस्ट तैयार की जाए और आदेश किए हुए कानून का तुरंत उनके ऊपर लागू कर पालन करवाया जाए.

 आपको बता दें कि इसका मूल कारण यह भी हो सकता है,  कुवैत बिगड़े हालातों को लेकर काफी भविष्य की तैयारियों को लेकर लग पड़ा है,  जिसमें अन्य के साथ साथ जरूरी दैनिक वस्तुओं का संरक्षण और भंडारण का आदेश है हो सकता है कि आपात स्थिति में कैदखाना यश सजायाफ्ता कामगारों को बाहर भेजने में परेशानी हो और बेवजह में आपातकाल के दौरान संग्रहित संसाधनों का उपयोग उनके देखरेख में हो अतः ऐसे लोगों को डिपोर्ट कर देना है एक बेहतर विकल्प लग रहा हो.

Leave a Comment