अरब से पैसे लेकर जा रहा कामगार हुआ गिरफ़्तार, मौलाना और कामगार दोनो को ले गयी पुलिस

असम पुलिस ने कुवैत से हवाला के जरिए 8.45 लाख रुपये मंगाने के आरोप में एक मौलाना और एक कारोबारी को गि’र’फ्तार किया है। बरपेटा के पुलिस अधीक्षक रोबिन कुमार ने बुधवार को बताया कि जिले के जामिया इस्लामिया सलाफिया अरबिक कॉलेज के प्रधानाचार्य नूर-उल-इस्लाम के पास से 8.45 लाख रुपये बरामद हुए जिसके बाद उसे गि’र’फ्ता’र कर लिया गया।

 

 

कुमार ने फोन पर ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘ पूछताछ के दौरान इस्लाम ने स्वीकार किया कि पैसा कुवैत से हवाला के जरिए आया है। पुलिस ने हवाला के जरिए पैसा पहुंचाने में मदद करने के आरोप में गुवाहाटी के कारोबारी अरूण सराफ को भी गिरफ्तार किया है। कुमार ने कहा कि इस्लाम ने दिसंबर 2018 से तीन मौकों पर कॉलेज के खाते में तकरीबन 28 लाख रुपये नकद जमा कराए हैं।

 

 

उन्होंने बताया, ‘‘ आरोपी हमें यह नहीं बता पाया है कि यह पैसा कहां से आया है।’’ पुलिस अधीक्षक ने इस बात की संभावना से इनकार नहीं किया कि इस पैसा का इस्तेमाल समाज विरोधी गतिविधियों के लिए किया जा सकता है। इस बीच, प्रवर्तन निदेशालय भी पुलिस की जांच में शामिल हो गया और उसने इस्लाम और सराफ से इस बाबत पूछताछ की।

असम पुलिस ने कुवैत से हवाला के जरिए 8.45 लाख रुपये मंगाने के आरोप में एक मौलाना और एक कारोबारी को गिरफ्तार किया है। बरपेटा के पुलिस अधीक्षक रोबिन कुमार ने बुधवार को बताया कि जिले के जामिया इस्लामिया सलाफिया अरबिक कॉलेज के प्रधानाचार्य नूर-उल-इस्लाम के पास से 8.45 लाख रुपये बरामद हुए जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। कुमार ने फोन पर ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘ पूछताछ के दौरान इस्लाम ने स्वीकार किया कि पैसा कुवैत से हवाला के जरिए आया है। पुलिस ने हवाला के जरिए पैसा पहुंचाने में मदद करने के आरोप में धरा.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.