अभी अभी भारतीय वायुसेना पाकिस्ता’नी जहाज़ को घेर जयपुर हवाई अड्डा पर उतारा

 

  • भारतीय वायु सेना के लड़ा’कू जेट विमानों ने पाकि’स्तानी एयर स्पेस की तरफ से आ रहे एक एंटोनोव एएन-12 भारी मालवाहक विमान को जयपुर एयरपोर्ट पर उतारने की मज’बू’र कर दिया है।
  • भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने जॉर्जिया के एक विमान को जयपुर में उतरने के लिए मजबूर किया क्‍योंकि वो अपने तय रास्‍ते से हट गया था. Antonov AN-12 कार्गो विमान पाकिस्‍तान के कराची से दिल्‍ली की उड़ान पर था”>भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने जॉर्जिया के एक विमान को जयपुर में उतरने के लिए मजबूर किया क्‍योंकि वो अपने तय रास्‍ते से हट गया था. Antonov AN-12 कार्गो विमान पाकिस्‍तान के कराची से दिल्‍ली की उड़ान पर

भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने जॉर्जिया के एक विमान को जयपुर में उतरने के लिए मजबूर किया क्‍योंकि वो अपने तय रास्‍ते से हट गया था. Antonov AN-12 कार्गो विमान पाकिस्‍तान के कराची से दिल्‍ली की उड़ान पर था और हवाई क्षेत्र के उल्‍लंघन के चलते उसे उतरने पर मजबूर किया गया.

 

रिपोर्ट के अनुसार विमान अपने निश्‍चित मार्ग से हटकर उत्तरी गुजरात में एक गैर निर्धारित जगह से भारतीय वायु सीमा में प्रवेश कर गया. विमान को सजग भारतीय वायुसेना के विमानों ने सफलतापूर्वक इंटरसेप्‍ट किया और जयपुर में उतरने पर मजबूर किया. पायलट से पूछताछ जारी है.

यह विमान अपनी निर्धारित उड़ान पर था और इसे बड़ी समस्‍या नहीं माना जा रहा. लेकिन कुछ समय पहले भारत और पाकिस्‍तान की वायुसेनाओं के बीच नियंत्रण रेखा पर जिस तरह झड़प हुई थी उसे देखते हुए भारतीय वायुसेना ने जैसे ही विमान का पता लगाया वैसे ही अपने लड़ाकू विमानों को रवाना कर दिया.

हालांकि विमान की जांच में कुछ भी संदिग्ध नहीं पाया गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. अतिरिक्त पुलिस आयुक्त लक्ष्मण गौड़ ने बताया कि पाकिस्तान से आए जॉर्जिया के मालवाहक विमान में कुछ भी संदिग्ध नहीं पाया गया, विमान को जल्द ही उड़ान भरने की अनुमति दी जाएगी. उन्होंने कहा कि विमान ने उड़ान के दौरान हवाई सीमा का मामूली उल्लंघन किया था. उन्होंने बताया कि इस मालवाहक विमान में सात से आठ यात्री थे.

 

 

जयपुर हवाई अड्डे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह पुष्टि की कि विमान को जांच के बाद छोड़ दिया गया है और उसे नई दिल्ली के लिए जल्द ही उड़ान भरने की अनुमति दी जाएगी. हवाई अड्डे पर विमान के उतरने के बाद विमान को सीआईएसएफ जवानों ने घेर लिया था और हवाई अड्डे पर अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए थे. रक्षा सूत्रों ने बताया कि यह विमान अपना रास्ता भटक गया था. उन्होंने बताया कि वायुसेना के वायु रक्षा विमान ने उसे जयपुर हवाई अड्डा पर उतरने के लिए मजबूर किया.

 

सूत्रों ने बताया कि जॉर्जिया का एएन-12 विमान कराची से दिल्ली के लिए रवाना होने के बाद अपने निर्धारित मार्ग से भटक गया और उसने उत्तर गुजरात में एक ऐसे स्थान से भारतीय हवाई क्षेत्र में प्रवेश किया,जो पूर्व निर्धारित नहीं था.Antonov An-12 चार इंजन वाला टर्बोप्रोपेलर परिवहन विमान है जिसे सोवियत यूनियन में डिजाइन किया गया था और परिवहन विमान के रूप में इसका खूब इस्‍तेमाल होता है.

 

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Bitnami