साउदी के बड़े क़दम से दुनिया में हलचल, इन दो के सर धड़ से उड़ाएगी सल्तनत की सरकार

मानवाधिकार समूह (विवेक के कैदी) के ट्विटर पेज ने कल बताया कि, सऊदी अरब के सरकारी अभियोजक ने गिरफ्तार मशहूर धर्मगुरु शेख अवद अल-कर्नी के खिलाफ मौत की सजा जारी करने की मांग की है. आपको बता दें की हाल ही में सऊदी सरकार ने गिरफ्तार धर्मगुरु शेख सलमान अल-औदा को भी सज़ा-ए- मौत देने की मांग की है.

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, “शेख अल-कर्नी एक निजी मुकदमे में सऊदी के विशेष आपराधिक न्यायालय के सामने उपस्थित हुए थे, जिसके दौरान अभियोजन पक्ष ने उनके खिलाफ झूठे आरोपों की एक सूची जारी की और उनके सिर कलम की मांग की.”

Sheikh Awad Al-Qarni

आपको बता दें की सऊदी धर्मगुरु शेख सलमान अल-औदा और अली अल-ओमारी के खिलाफ इसी तरह के अनुरोध की सिफारिश के एक दिन बाद सऊदी सरकार की मांगें सामने आईं.

सितंबर 2017 में “आतंकवाद के आरोपों” पर सऊदी अधिकारियों द्वारा अल-ओमारी और अल-औदा के साथ अल-कर्नी को गिरफ्तार किया गया था. माना जाता था कि तीन धर्मगुरुओं को गिरफ्तार कर लिया गया था क्योंकि उन्होंने पड़ोसी कतर की ओर क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की नीति की आलोचना की थी.

salman al -ouda

जून 2017, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और मिस्र ने कतर के साथ संबंधों को खत्म दिया था, साथ ही क़तर पर “आतंकवाद का समर्थन” का आरोप लगाया था. उन्होंने जमीन, समुद्र और हवाई मार्गों को भी बंद कर दिया और कतररी नागरिकों को निष्कासित कर दिया.

Leave a Comment