सऊदी सरकार की ज़ियात्ती के बाद गिरफ्तार सऊदी वरिष्ठ धर्मगुरु की हालत बेहद नाज़ुक, अस्पताल में हुए भर्ती

सऊदी अधिकारियों ने सऊदी इस्लामी विद्वान सफार अल-हवाली को पिछले हफ्ते अस्पताल में भर्ती कराया क्योंकि जेल में उनकी तबियत काफी बिगड़ गयी. हवाली को इस साल जुलाई में गिरफ्तार किया गया क्योंकि उन्होंने एक किताब लिखी जिसमें उन्होंने सऊदी और अमेरिका की नजदीकियों पर प्रकाश डाला और बिन सलमान के सुधारों इ भी आलोचना की जिसके बाद सऊदी सरकार हवाली को उनके घर से उठाकर जेल में बंद कर दिया.

मिडिल ईस्ट मॉनिटर के मुताबिक, विवेक के कैदियों के ट्विटर खाते ने कहा कि उनके जेल सेल के अंदर अपनी स्वास्थ्य परिस्थितियों में गिरावट के बाद अल-हवाली की जान को खतरा बना हुआ है.

यह पुष्टि की गई है कि पिछले घंटों के दौरान उनके गंभीर स्वास्थ्य में गिरावट के बाद शेख डॉ. सफार अल-हावली को अस्पताल ले जाया गया. जेल में हो रही ज़ियात्ती के बाद क्योंकि चोट आयीं है टूटी हड्डी और उनके गुर्दों ने भी काम करना बंद कर दिया है.

ट्विटर अकाउंट ने बताया कि शेख की स्वास्थ्य परिस्थितियों में उनकी गिरफ्तारी के एक माह के भीतर गंभीर रूप से बिगड़ गई है. 12 जुलाई को, सऊदी अधिकारियों ने इस्लामी विद्वान सफार अल-हवाली को अपने घर में गिरफ्तार कर लिया और उन्हें एम्बुलेंस के साथ अपने जेल सेल में स्थानांतरित कर दिया था.

सूत्रों ने कहा कि गिरफ्तारी मुस्लिम और पश्चिमी सभ्यता के हकदार शेख अल-हावली की किताब द्वारा की गयी जिसका नाम मुस्लिम्स एंड वेस्टर्न सिविलाइज़ेशन है. सऊदी सरकार का आरोप है की इस किताब में शाही परिवार की आलोचना की गयी है.

The post सऊदी सरकार की ज़ियात्ती के बाद गिरफ्तार सऊदी वरिष्ठ धर्मगुरु की हालत बेहद नाज़ुक, अस्पताल में हुए भर्ती appeared first on arabnama.

Leave a Comment